वंडो

अेक्यूट किडनी फेल्यर

हिन भाग में अेक्यूट किडनी फेल्यर जे बाबत जानकारी डि॒नियल आहे।

अेक्यूट किडनी फेल्यर छा खे चइबो आहे ?

मुकमल नमूने कमु कंदड़ ब॒ई किडनियूं कंहिम सबब करे ओचितो ई ओचितो थोड़े वक़्त में ई (कलाकनि, डी॒हंनि या हफितनि में ) थोड़े वक़्त लाइ कमु करणु बंद कनि या घटि कमु कनि त उन खे अेक्यूट किडनी फेल्यर या अेक्यूट इञरी या अेक्यूट रीनाल फेल्यर (अे.आर​.अेफ​.) चइजे थो ।

अेक्यूट किडनी फेल्यर थियण जा कहिड़ा कारण आहिनि ?

अेक्यूट किडनी फेल्यर थियण जा मुख्य कारण हेठीअं रीत आहिनि :

  1. किडनीअ खे रतु घटि मिलणु, वधीक दस्त-उल्टियुनि जे करे शरीर में पाणी घटिजी वियो हुजे, वधीक रतु वही वेई हुजे, सड़णि, रतु जो दाब॒ ओचितो ई ओचितो घटि थियणु जुदा जुदा सबबनि करे ।
  2. रतु में सख़्त बीमारी, के गंभीर बीमारियूं ऐं कंहिम वडे॒ आपरेशन खां पोइ ।
  3. पथिरीअ जे करे मूत्र मार्ग में रंडक पैदा थी हुजे ।
  4. इन खां सवाइ बि॒यनि कारणनि में : शरीर में ज़हिरी मलेरिया (Falciparum Malaria) थियो हुजे, पेशाब जी गंभीर बीमारी ख़ास क़िस्म जी किडनीअ जी सोज॒, औरतुनि में वियम वक़्तु रतु जो ऊचो दाबु॒ या रतु जो वधीक वही वञणु, केतिरियुनि दवाउनि जो आडो॒ असरु, नांग जो डं॒गु, मुशिकुनि खे वधीक नुक़सान थियण सां ठहंदड़ ज़हिरी शयुनि जी किडनीअ ते थींदड़ आडी॒ असर वग़ैरह जो समावेश थींदो आहे ।

अेक्यूट किडनी फेल्यर जूं निशानियूं

  1. अेक्यूट किडनी फेल्यर में , किडनीअ जी कमु करण जी शक्ति थोड़े ई वक़्त में ख़राब थी वञण सां रतु में ग़ैर ज़रूरी शयूं ऐं पाणीअ (पाणियठ​) जो अंदाज़ तमामु तकिड़ो वधी वञे थो ऐं मइदिनी शयुनि जो अंदाज़ ऐं बैलेन्स तमामु तकिड़ो ई बिगड़ी वेंदो आहे । इन क़िस्म जे फेल्यर में सम्पूर्ण कमु कंदड़ किडनी थोड़े ई वक़्त में तकिड़ो बिगड़ी वञण सां बीमारीअ जूं निशानियूं जल्दी ई ऐं वधीक अंदाज़ में डि॒सण में ईंदियूं आहिनि । इहे निशानियूं जुदा-जुदा मरीज़नि में अलग॒-अलग॒ क़िस्म जूं घटि या वधीक अंदाज़ में थी सघनि थियूं ।
  2. जंहिं सबब करे किडनी ख़राब थी हुजे, उन जूं निशानियूं गडो॒-गडु॒ डि॒सण में ईंदियूं आहिनि (दस्त​, उल्टियूं , रतु जो वही वञणु, ज़हिरी मलेरिया में बुख़ार​, थधि लग॒णु वग़ैरह ) पेशाबु घटिजी वञणु (जेतोणीक कुझ मरीज़नि में पेशाब जो अंदाज़ बराबर ई हूंदो आहे), शरीर में पाणियठु जो अंदाज़ वधी वञण सां मुंहं , पेरनि ऐं शरीर ते सोज॒ चढ़िही वञणु ऐं वज़नि पिणु वधी वञणु ।
  3. बुख घटि लगे॒, उल्टी, दिल कची थियणु , हिडकी, थकु लग॒णु, कमिज़ोरी ऐं निंड जो नशो रहे, याद शक्ति घटिजी वञे ।
  4. तेज़ ऐं मौतिमार निशानियूं जीअं त सहिको थियणु, छातीअ में सूर , छिकताण​, हेचकी या कोमा, रतु जी उल्टी ऐं पोटेशियम जो वधीक अंदाज़ जे करे दिल जी ग़ैर रवाजी दक-दक ऐं ओचितो ई दिल जी दक​-दक बंद थी वञणु ।
  5. अेक्यूट किडनी फेल्यर जे शुरुआती तबक़े में किन मरीज़नि में निशानियूं डि॒सण में न ईंदियूं आहिनि ऐं बि॒ऐं कंहिं सबब करे रतु जी तपास कराइण सां अचानक बीमारीअ जो निदान थी वेंदो आहे ।

अेक्यूट किडनी फेल्यर जो निदान​

अेक्यूट किडनी फेल्यर जे घणनि मरीज़नि में निशानियूं डि॒सण में न ईंदियूं आहिनि या जड॒हिं बीमारीअ जे करे मरीज़ जी किडनी ख़राब थियण जो इमकान हुजे ऐं बीमारीअ जूं निशानियुं पिणु किडनी फेल्यर हुअण जी शंका पैदा थिऐ त यकिदमु रतु जी तपास (जांच​) कराऐ वठणु घुरिजे ।किडनी फेल्यर जे पके निदान लाइ रतु जी तपास जंहिं में क्रिअेटीनिन ऐं युरिया जो वधीक अंदाज़ अेक्यूट किडनी फेल्यर बु॒धाऐ थो । बि॒यो पेशाब जो अंदाज़ पेशाब जी तपास ऐं सोनोग्राफी वग़ैरह तपास ज़रीये किडनी फेल्यर जे कारण ऐं किडनी फेल्यर जी बि॒अे कंहिं बि असर साइड इफेक्ट बाबत जा॒ण मिली सघे थी ।

अेक्यूट किडनी फेल्यर खे रोकण जा उपाव​

दस्त -उल्टियूं , ज़हिरी मलेरिया जहिड़ियूं किडनी फेल्यर करे सघनि , अहिड़ियुनि बीमारियुनि जो तकिड़ो निदान ऐं इलाजु:

  • हिन बीमारीअ जी तकिलीफ हुजे, अहिड़नि मरीज़नि खे ।
  • पाणी वधीक पीअणु घुरिजे ।
  • पेशाब घटि अचे त यकिदमु डाक्टर खे जा॒ण कजे ।
  • किडनीअ खे नुक़सान कंदड़ दवाऊँ न वठिजनि ।

अेक्यूट किडनी फेल्यर में किडनी केतिरे वक़्त में वरी कमु कंदड़ थी वेंदी आहे ?

मुनासिब इलाज सां फक़त 2 खां 4 हफ्तनि में ई घणे भाङे मरीज़नि जी किडनी वरी मुकमल तोर हमेशह मूजिबु कमु कंदड़ थी वेंदी आहे । अहिड़नि मरीज़नि खे इलाजु पूरे थियण खां पोइ कंहिं बि डायलिसिज़ या दवा जी ज़रूरत नथी रहे । पर अेेक्यूट किडनी फेल्यर जे मरीज़नि में ग़लति इलाज कराइण में थींदड़ देर मौतिमार थी सघे थी ।

अेक्यूट किडनी फेल्यर जो मुख्य इलाजु हेठीअं रीत आहे

  • जवाबदार बीमारीअ जो इलाजु ।
  • दवा वसीले इलाजु ।
  • खाधे में परहेज़ ।
  • डायालिसिज़

१. जवाबदार बीमारीअ जो इलाजु

  • अेक्यूट किडनी फेल्यर जे इलाज में सभु खां वधीक अहिमियत वारी गा॒ल्हि इहा आहे त जवाबदार बीमारीअ खे सुञाणी, उन जो इलाजु कजे ।
  • किडनी फेल्यर जे कारण मुजिबु दस्त -उल्टियूं या ज़हिरी मलेरिया खे क़ाबूअ में आणण लाइ सही दवा, रतु जा गा॒ड़िहा जुज़ा टुटी पिया हुजनि त न​ओं रतु ऐं रतु जी बीमारीअ खे क़ाबूअ में आणण लाइ ख़ास एन्टीबायोटिक्स डि॒नियुं वेंदियूं आहिनि । पथिरीअ जे करे मूत्र मार्ग में रंडक थींदी हुजे त ज़रूरी इलाजु करे इहा रंडक दूर कई वेंदी आहे ।इन क़िस्म जे योग्य इलाज द्वारां नुक़सान थियल किडनीअ खे वधीक नुक़सान थियण खां बचाऐ सघिजे थो ऐं किडनी वरी कमु करणु लगं॒दी आहे ।

२. दवा ज़रीये इलाजु

दवा ज़रीये इलाज जो मक़िसद किडनीअ खे मददगार बणिजी वधीक तकलीफ थियण खां रोकणु ऐं उन जो इलाजु करणु आहे । बीमारिअ जो इलाजु ऐं किडनीअ खे नुक़सान करे सघनि, अहिड़युनि दवाउनि खां परे रहणु (मि.तो NSAIDS).

पेशाब वधाइण जी दवा

पेशाब घटि थियण करे थींदड़ सोजु॒, दमु वग़ैरह मसइलनि खे रोकण लाइ ऐं उन जे इलाज लाइ हीअ दवा मददगार थींदी आहे ।

उल्टी-एसीडीटी जूं दवाऊँ

किडनी फेल्यर जे करे थींदड़ उल्टी-ओकारा (दिल कची थियण​) ऐं हिडकीअ खे क़ाबूअ में रखण लाइ इहे दवाऊँ उपयोगी थींदियूं आहिनि । बि॒यूं दवाऊँ जेके दम​, रतु जे वधीक या घटि दाब॒ खे ऐम पोटेशियम जे अंदाज़ खे क़ाबूअ में रखनि थिंयूं , हिचकी, रतु जी उल्टी जहिड़ी गंभीर तकलीफ में राहत डि॒यनि थियूं ।

३. खाधे में परहेज़

किडनी कमु न करण जे करे साइड इफेक्ट ऐं तकलीफ थिऐ थी, उन में राहत लाइ मुनासिब परहेज़ ज़रूरी आहे ।

  • पेशाब जे अंदाज़ खे ध्यान में रखी पाणियठ (पाणी) घटि वठिजे जीअं सोजु॒ ऐं दम जहिड़ियुनि तकलीफुनि खे थियण खां रोके सघिजे ।
  • पोटेशियम जो अंदाज़ न वधे इन लाइ फलनि जी रसु नारियेल जो पाणी, फल​, सुको मेवो वग़ैरह न वठिजनि । पोटेशियम वधी वञे त दिल ते मौतमार असर करे सघे थी ।
  • पोटेशियम जो अंदाज़ न वधे इन लाइ फलनि जी रसु नारियेल जो पाणी, फल​, सुको मेवो वग़ैरह न वठिजनि । पोटेशियम वधी वञे त दिल ते मौतमार असर करे सघे थी ।

४. डायालिसिज़

अेक्यूट किडनी फेल्यर जे मरीज़नि में जेसिताईं किडनी मुकमल नमूने बाक़ाइदे कमु न कंदी थिऐ तेसिताईं थोड़े वक़्त लाइ किडनीअ जो कमु डायालिसिज़ द्वारां कराइणु लाज़िमी बणिजी वञे थो ।

डायालिसिज़ याने छा ?

किडनीअ जे कमु न करण करे शरीर में गडु॒ थियल ग़ैर ज़रूरी इख़िराजी शयूं ऐं वधीक पाणियठ, मइदिनि लूण ऐं ऐसिड जहिड़ियुनि कीमियाई शयुनि खे हथिड़ाधू नमूने दूर करण ऐं साफ करण जी रिति खे डायालिसिज़ चइजे थो । डायालिसिज़ तमाम घणी किडनी फेल्यर जे मरीज़नि खे रवाज़ी ज़िन्दगी जीअण में मददगार थींदो आहे ।

डायालिसिज़ जा ब॒ क़िस्म आहिनि : पेरीटोनीअल ऐं हिमोडायालिसिज़ । डायालिसिज़ बाबत तफिसीलवाल गा॒ल्हि-बो॒ल्हि बाब 23 में कयल आहे ।

अेक्यूट किडनी फेल्यर में डायालिसिज़ जी ज़रूरत कड॒हिं पवंदी आहे ?

अेक्यूट किडनी फेल्यर जे सभिनी मरीज़नि जो इलाज दवा ऐं परहेज़ द्वारां कयो वेंदो आहे । पर जड॒हिं किडनीअ खे वधीक नुक़सान थियो हूंदो आहे तड॒हिं इहो सभु इलाजु करण खां पोइ बि बीमारीअ जूं निशानियुं वधंदियुं वञनि थियूं, जेके मौतिमार पिणु थी सघनि थियुं । अहिड़नि मरीज़नि खे डायालिसिज़ जो वक़्तसरि इलाजु नई ज़िन्दगी बख़िशे सघे थो । अेक्यूट किडनी फेल्यर जे मरीज़नि में पाणियठ (पाणी), पोटेशियम ऐं ऐसिड जो अंदाज़ तमामु वधी वञण​, इहे ख़ास निशानियुं आहिनि ।

डायालिसिज़ कराइण लाइ अेक्यूट किडनी फेल्यर में डायालिसिज़ केतिरा दफ़ा कराणो पवंदो ?

जेसिताई मरीज़ जी ख़ुद जी किडनी वरी कमु कंदी न थिऐ, तेसिताई डायालिसिज़​- हथिड़ाधू किडनीअ तोर कमु करे मरीज़ जी तबियत सुठी रखण में मदद करे थो । किडनी सुधारण में १ खां ४ हफ़्तनि जो वक़्त लगं॒दो आहे । उन दरिम्यान रवाजी तरह हफ्ते में बि॒न खां टे दफ़ा डायालिसिज़ कराइणो पवंदो आहे । घणनि माण्हुनि में इहा ग़लत मञिता हूंदी आहे त हिकु दफ़ो डायालिसिज़ कराइण सां वक़्त -बि-वक़्त या हमेशह डायालिसिज़ कराइणो पवंदो आहे । इन डप जे करे घणा मरीज़ इलाजु कराइण में पुठिते रहिजी वेंदा आहिनि ऐं केतिराई दफ़ा ईअं बि थींदो आहे त बीमारीअ जी गंभीरता तमाम वधी वेई हुजे त डाक्टर पिणु को बि इलाजु करे सघनि उन खां अग॒ में ई मरीज़ जो मौत थी वेंदो आहे ।

स्रोत : किडनी एजुकेशन

2.58333333333
गडु समालोचना

पंहिंजो सुझाउ डियो

Enter the word
नेविगतिओन
Back to top