वंडो

दवा जे करे थींदड़ किडनीअ जा मसइला

दवा जे करे किडनीअ खे नुक़िसान थियण रवाजी गा॒ल्हि आहे ।

दवा जे करे शरीर जे बि॒यनि ऊज़िवनि खां सवाइ किडनीअ ख़े नुक़िसान थियण जो डपु वधीक छो रहे थो ?

दवा जे करे किडनीअ खे नुक़िसान थियण जो इमिकान वधीक हुअण जा मुख्य ब॒ कारण आहिनि :

किडनीअ ज़रीये दवा जो नेकाल​: घणे भाङे दवाउनि जो शरीर मां किडनीअ ज़रीये नेकाल थींदो आहे । इन प्रक्रिया दरम्यान केतिरियूं दवाऊँ या उन्हनि जे फेरिफार खां पोइ ठहियल शयुनि जे करे किडनीअ खे नुक़िसान थी सघंदो आहे ।

किडनीअ खे वधीक रतु पहुचण​ दिल मां हर मिनिट में निकिरंदड़ कुल रतु जो पंजो हिस्सो किडनीअ में वेंदो आहे । मक़िदर ऐं वज़न जे अंदाज़ में सजे॒ शरीर में वधीक में वधीक रतु किडनीअ में पहुचंदो आहे । इन सबब करे दवाऊँ ऐं किडनीअ खे नुक़िसान पहुचाईंदड़ बि॒यूं शयूं पिणु थोड़े वक़्त में, वधीक अंदाज़ में किडनीअ में पहुचण सां किडनीअ खे नुक़िसान थियण जो इमिकान वधी वञे थो ।

किडनीअ खे नुक़िसान कंदड़ मुख्य दवाऊँ

सूर मिटाईंदड़ दवाऊँ

शरीर​, मथे में, संधनि जे नंढे-वडे॒ सूर ऐं बुख़ार लाइ इन क़िसिम जूं दवाऊँ डॉक्टर जी सलाह खां सवाइ घणे अंदाज़ में वरितियूं वेंदियूं आहिनि । इन सबब जे करे दवा जे करे किडनी ख़राब थियण लाइ सूर मिटाईंदड़ दवाऊँ सभ खां वधीक ज़वाबदार हूंदियूं आहिनि ।

सूर मिटाईंदड़ दवाऊँ याने छा ? कहिड़ियूं -कहिड़ियूं दवाऊँ इन क़िसिम जूं आहिनि ?

सूर ऐं बुख़ार घटाइण लाइ कमु ईंदड़ दवाउनि खे सूर मिटाईंदड़ (Non steroidal Anti-Inflammatory Drugs (NSAIDs)) दवाऊँ चइबो आहे । रवाजी तरह इन क़िसिम जे कमि ईंदड़ दवाउनि में एस्प्रीन​, आइबुप्रेफेन​, कीटोप्रुफेन​, डाइक्लो फेनाक सोडियम​, नीमेसुलाइड​, नेप्रोसेन ऐं कैफेन वगै़रह जो समावेश थिअे थो ।

छा दर्द मिटाईदड़ दवाउनि सां हमेशह हरहिक माण्हूअ में किडनी ख़राब थियण जो जोखम रहे थो ?

न, डॉक्टर जी सलाह मुजिब आम माण्हू मुनासिब अंदाज़ ऐं वक़्त ताईं दर्द मिटाईंदड़ दवाऊनि जो उपयोग करण संपूर्ण सलामत हूंदो आहे । पर असां खे इहो याद रखणु घुरिजे त अमाइनो ग्लायकोसाईड ग्रुप जूं दवाऊँ पोइ किडनीअ खे नुक़िसान पहुचाईंदड़ दर्द मिटाईंदड़ दवाऊँ आहिनि ।

कड॒हिं दर्द मिटाईंदड़ दवाउनि सां किडनी ख़राब थियण जो जोखम रहे थो ?

हेठियुनि हालतुनि में दर्द मिटाईंदड़ दवाउनि सां किडनी ख़राब थियण जो जोखम वधीक रहे थो ।

  • डॉक्टर जी संभाल (ध्यान डि॒यण​) खां सवाइ, घणे वक़्त ताईं दवा जे वधीक डोज़ जो उपयोग ।
  • हिक ई गोरीअ में हिक ई वक़्त घणियुनि दर्द मिटाईंदड़ दवाउनि जी मिलावट वारियुनि दवाउनि जो घणे वक़्त ताईं उपयोग (जीअं त : अे.पी.सी., एस्प्रीन​, केफीन ऐं फिनासेटीन जी मिलावत वारी दवा आहे । )
  • वडी॒ उम्र में , किडनी फेल्यर हुजे तड॒हिं, डायाबिटिज़ में ऐं शरीर में पाणीअ जो अंदाज़ घटि हुजे तड॒हिं मर्द मिटाईंदड़ दवाउनि जो उपयोग ।

ग़लत नमूने वरितल दर्द मिटाईंदड़ दवाऊँ किडनीअ लाइ जोखिमी थी सघनि थियूं ।

किडनी फेल्यर जे मरीज़नि में कहिड़ी दर्द मिटाईंदड़ दवा सभ खां वधीक सलामत आहे ?

पेरासीटेमोल (अेसिटामिनोफेन​) बि॒यनि (NSAIDs) दवाउनि खां वधीक सलामत दवा आहे ।

घणनि मरीज़नि खे दिल जी तकिलीफ लाइ हमेशह लाइ अेस्पीरिन वठण जी सुचिना डि॒नी वेंदी आहे, त छा उहा किडनीअ खे नुक़िसान करे सघे थी ?

दिल जी तकिलीफ लाइ हमेशह (नेमाइतो) अेस्पीरिन घटि डोज़ में वठण जी सलाह डि॒नी, वेंदी आहे, जेका किडनीअ लाइ जोखाइती न आहे ।

छा दर्द मिटाईंदड़ दवाउनि सां ख़राब थियल किडनी वरी सुधिरी सघंदी आहे ?

न​: वडी॒ उम्र जे केतिरनि मरीज़नि खे संधनि जे सूर लाइ लंबे अरिसे ताईं दर्द मिटाईंदड़ दवाऊँ वठिणियूं पवंदियूं आहिनि । डे॒ढ​-ब॒ साल या उन खां वधीक लंबो अरिसो लगा॒तार सागी॒ दवा वठिणी पवे त केतिरनि मरीज़नि में किडनी आहिस्ते आहिस्ते वरी सुधिरी न सघे, अहिड़े नमूने ख़राब थी सघंदी आहे । अहिड़नि मरीज़नि खे अहिड़े क़िसिम जूं दवाऊँ डॉक्टर जी सलाह​ ऐं नज़रदारी हेठि ई वठणु सलाह भरियो आहे ।

लंबे अरिसे ताईं दर्द मिटाईंदड़ दवाउनि जो किडनीअ ते असर जो तकिड़ो निदान कहिड़े नमूने कयो वेंदो आहे ?

पेशाब जी तपास में प्रोटीन वेंदी हुजे उहा किडनीअ ते साइड इफेक्ट जी सभ खां पहिरीं ऐं हिक ई निशानी थी सघे थी । किडनी वधीक ख़राब थिअे तड॒हिं रतु जी तपास में क्रिअेटीनिन जो अंदाज़ वधीक डि॒सण में ईंदो आहे ।

दर्द मिटाईंदड़ दवाउनि जे करे किडनीअ खे थींदड़ नुक़िसान कहिड़े नमूने रोके सघिजे थो ?

दर्द मिटाईंदड़ दवाउनि जे करे किडनीअ खे थींदड़ नुक़िसान खे रोके सघिजे, उन लाइ आम सूचिनाऊँ हेठीअं रीति आहिनि :

  • गै़र ज़रूरी दर्द मिटाईंदड़ दवाउनि जो उपयोग न कजे ।
  • लंबे अरिसे लाइ ज़रूरी दर्द मिटाईंदड़ दवाऊँ डॉक्टर जी सलाह मूजिबु ई वठणु घुरिजनि ।
  • दर्द मिटाईंदड़ कोर्स डॉक्टर जी नज़रदारीअ हेठि मुनासिब वक़्त ताईं करिणो ।
  • मिलावत वारियुनि दर्द मिटाईंदड़ दवाउनि जो उपयोग लंबे अरिसे ताईं न कजे ।
  • हर रोज़ खूब पाणी पीइजे । शरीर में योग्य पाणीअ जे करे किडनीअ खे घुरिबल रतु पहुचंदो ऐं किडनीअ खे थींदड़ नुक़िसान खे रोके सघिजे थो ।

अेमाइनो ग्लाइकोसाइड्स​

हिन क़िसिम जे दवाउनि सां रवाजी तरह किडनीअ खे नुक़िसान पहुचंदो आहे । इन क़िसिम जी दवा चालू करण सां 7-10 डीं॒हनि खां पोइ किडनीअ खे नुक़िसान थी सघे थो ऐं पेशाब घुरिबल अंदाज़ में अचण सबब केतिराई दफ़ा निदान खां महिरूम रहिजी वञिजे थो ।

जेन्टामाइसिन नाले वारी दवा जे करे किडनीअ खे नुक़िसान थियण जो इमिकान रहे थो । जड॒हिं उन जा इञेक्शन लंबे अरिसे ताईं वधीक डोज़ में वठिणा पवनि या वडी॒ उम्र​, कमिज़ोर किडनी, शरीर में पाणियठु जो घटि हुजणु,

वडी॒ उम्र​, डायाबिटीज़ ऐं शरीर में पाणी घटि हुजे तड॒हिं दवा जी किडनीअ ते साइड इफेक्ट थियण जो डपु वधीक रहे थो ।

फासफोरस जी ख़ामी हुजे, इहे दवाऊँ बि॒यनि दवाउनि सां गडु॒ लंबे अरिसे ताईं चालू हुजनि, त उहे लिवर​, किडनी ऐं दिल खे नुक़िसान पहुचाअे सघनि थियूं ऐं शरीर में घणे अंदाज़ में इन्फेक्शन​, छूत जी बीमारी पिणु लगी॒ सघे थी ।

अमाइनो ग्लाकोसाइड्स दवाउनि जे करे किडनीअ खे थींदड़ु नुक़िसान कहिड़े नमूने रोके सघिजे थो ?

किडनीअ खे इन क़िसिम जे दवाउनि जे करे थींदड़ नुक़िसान खे रो कण लाइ रवाजी सूचिनाऊँ हेठीअं रिति रीति आहिनि :

  • अमाइनो ग्लाइकोसाइड्स दवाउनि जे करे किडनीअ खे जोखम थियण जो इमकान वधीक मरीज़नि में रहे थो, इन करे इन्हनि दवाउनि जो उपयोग ख़बरदारीअ सां करिणो ऐं किडनी ख़राब थियण जे कारणनि जो योग्य इलाज कजे ।
  • डीं॒हं में बि॒नि जे बदिरां हिकु दफ़ो ई अमाइनो ग्लाइकोसाईड इञेक्शन डि॒यण सां किडनीअ ते थींदड़ साइड इफेक्ट घटाअे सघिजे थो ।
  • मुनासिब अंदाज़ में ऐं वक़्तसिर हिन दवा जे इस्तेमाल सां किडनिअ ते थींदड़ साइड इफेक्ट घटाए या रोके सघिजे थो ।
  • जिनि माण्हुनि में किडनी घटि कमु कंदी हुजे , उन्हनि में अमाइनो ग्लाइकोसाइडस जे डोज़ में योग्य फेरिफार करे किडनीअ ते थींदड़ इफेक्ट घटाए सघिजे थो ।
  • अमाइनो ग्लाइकोसाइडस जे इलाज दरम्यान हिक न बि॒अें डीं॒हं रतु जी क्रीअेटीनिन जी तपास ज़रीये किडनीअ ते थींदड़ साइड इफेक्ट जो वक़्तसरि निदान थी सघंदो आहे ।

रेडियो कोन्ट्रास्ट इञेक्शन :

रेडियो कोन्ट्रास्ट इञेक्शन जे करे किडनीअ खे थींदड़ नुक़िसान वरी आहिस्ते आहिस्ते सुधिरी सघे थो । जिनि मरीज़नि जी किडनी घटि कमु कंदी हुजे, जिनि खे डायाबिटीज़ हुजे, शरीर में पाणी (पाणियठ​) घणो घटिजी वियो हुजे, उम्र वधीक हुजे य गडो॒ गडु॒ किडनीअ खे नुक़िसान कंदड़ बी॒ का दवा हलंदी हुजे तड॒हिं आयोडिन वारियूं शयुनि वारी हिन इञेक्शन ज़रीये अेक्स - रे कराइण खां पोइ किडनी ख़राब थियण जो इमिकान रहे थो । घणे क़दुर मरीज़नि में किडनीअ खे थियलु नुक़िसान आहिस्ते-आहिस्ते सुधिरे वेंदो आहे । रेडियो कोन्ट्रास्ट जे इञेक्शन जो डोज़ घटि कजे, नान आयोनिक कोन्ट्रास्ट जो उ पयोग कजे, पाणी (पाणियठ​) जो अंदाज़ पूरो क़ायम रखिजे, सोडा - बायकार्ब ऐं अेसिटाइल सिसटीन जा इञेक्शन ज़रूर हुजनि त डे॒ई करे इन क़िसिम जे दवाउनि जो उपयोग करण सां किडनीअ खे थींदड़ नुक़िसान खे घटाअे सघिजे थो ।

बि॒यूं दवाऊँ

केतिराई दफ़ा किडनीअ खे नुक़िसान पहुचाअे सघनि अहिड़ियुनि बि॒यनि दवाउनि में कुझ अेन्टीबायोटिक्स​, कैंसर जे इलाज में कमु ईंदड़ दवाऊँ ऐं टी.बी. जे इलाज में कमु ईंदड़ दवाऊँ पिणु अची वञनि थियूं ।

बि॒यूं दवाऊँ \ आयुर्वेदिक दवाऊँ

  • आयुर्वेदिक दवाऊं या बि॒यूं चाईनिज़ हर्ब (जड़ी-बू॒टीअ) जे दवाउनि जी का बि साइड इफेक्ट कान्हे, इहा मञिता ग़लत आहे ।
  • घणियुनि दवाउनि में गौ॒रियूं धातू (शीहो, पारो वगै़रह​) वसीले किडनीअ खे नुक़िसान थी सघे थो ।
  • इन खां सवाइ किडनी फेल्यर जे मरीज़नि में कुझ क़िसिम जूं आयुर्वेदिक दवाऊँ केतिरा दफ़ा जोखमी थी सघनि थियूं ।
  • केतिरियुनि दवाउनि में पोटेशियम जो वधीक अंदाज़ किडनी फेल्यर जे मरीज़नि लाइ मौतिमार बणिजी सघे थो ।

स्त्रोत: किडनी एजुकेशन

2.82142857143
गडु समालोचना

पंहिंजो सुझाउ डियो

Enter the word
नेविगतिओन
Back to top