होम / सेहत / बिमारी / किडनीअ बाबत शुरुआती (बुनीयादी) जा॒ण / किडनीअ जे बीमारियुनि बाबत ग़लति मञिताऊँ ऐं हक़ीक़तूं
वंडो

किडनीअ जे बीमारियुनि बाबत ग़लति मञिताऊँ ऐं हक़ीक़तूं

हिन भाग में किडनीअ जे बीमारियुनि बाबत ग़लति मञिताऊँ ऐं हक़ीक़तूं जे बाबत जानकारी डि॒नियल आहे।

ग़लति मञिता(Myth):किडनीअ जूं सभु बीमारियूं गंभीर हूंदियूं आहिनि ।

हक़ीक़त​: न किडनीअ जूं सभू बीमारियूं गंभीर हूंदियूं आहिनि । तकिड़े निदान (तपास​) ऐं इलाज बइद किडनीअ जूं केतिरियूं ई बीमारियूं मुकमल नमूने दूर थी सघनि थियूं ऐं केतिरनिअ ई मरीज़नि में किडनी वधीक ख़राब थियण खां अटिकी वञनि थियूं या ख़राब थियण जी रफ़ितार घटिजी वञे थी ।

ग़लति मञिता: जेकड॒हिं हिक किडनी ख़राब थींदी आहे त किडनी फेल्यर थी पवंदी आहे ।

हक़ीक़त : न ब॒ई किडनियूं ख़राब थींदियूं आहिनि त ई किडनी फेल्यर थींदी आहे । रवाजी तरह कंहिं मरीज़ जी हिक किडनी बिल्कुल ख़राब थी वेंदी आहे ऐं अहिड़ियुनि हालतुनि में रत में क्रिअेटीनिन ऐं युरिया जे अंदाज़ में को बि फरक़ु न पवंदो आहे । जड॒हिं ब॒ई किडनियूं ख़राब थी वेंदियूं आहिनि तड॒हिं ई रतु जूं ग़िलाज़तूं शरीर मां बा॒हिर निकरी न सघंदियूं आहिनि, जंहिंकरे रतु जी तपास में क्रिअेटीनिन ऐं यूरिया जो अंदाज़ वधी वेंदो आहे ऐं किडनी फेल्यर जो निदान थींदो आहे ।

ग़लति मञिता:किडनीअ जी कंहिं बि बीमारीअ में सोज॒ अचण किडनी फेल्यर जी निशानी आहे ।

हक़ीक़त : न​, किडनीअ जे केतिरियुनि बीमारियुनि में किडनीअ जे कमु करण जी शक्ति बाक़ाइदे हूंदे पिणु मरीज़नि में सोज॒ डि॒सण में ईंदी आहे, जहिड़ोक नेफ्रोटिक सिन्ड्रोम ।

ग़लति मञिता:किडनी फेल्यर जे सभिनी मरीज़नि में सोजु॒ डि॒सण में ईंदी आहे ।

हक़ीक़त : न​, केतिरनि मरीज़नि जूं ब॒ई किडनियूं ख़राब थी वियल हूंदियूं आहिनि ऐं मरीज़ डायालिसिज़ कराईंदो हुजे, तंहिं हूंदे बि सोजु॒ डि॒सण में ईंदी आहे, पर सभिनी मरीज़नि में न । इन करे सोजु॒ न हुअण जो मतलबु किडनी फेल्यर न आहे , इहो हरगिज़ न समिझिणो ।

ग़लति मञिता:किडनीअ जी बीमारीअ वारनि मरीज़नि खे घणे अंदाज़ में पाणी पीअणु घुरिजे ।

हक़ीक़त :न​, पेशाब जो अंदाज़ घटि हुअण सबबु सोजु॒ थियणु, इहा किडनीअ जे बीमारियुनि जी हिक मुख्य निशानी आहे । इन लाइ पाणीअ जो अंदाज़ घटि वठणु ऐं शरीर में पाणीअ जो अंदाज़ क़ाइम रहे, इहो तमामु ज़रूरी आहे । पर पेशाब में रोग॒ थियणु या पथिरीअ जी तकिलीफ वारनि मरीज़नि, जंहिं में किडनी (गुर्दे) जा कम बाक़ाइदे थींदा हुजनि, उन हालत में वधीक अंदाज़ में पाणी पी सघिजे थो ।

ग़लति मञिता:मां तंदुरस्त आहियां, इन करे मूंखे किडनीअ जी बीमारी न आहे ।

हक़ीक़त :क्रोनिक किडनीअ जी बीमारिअ जे शुरुआती हालत में रवाजी तरङ घणे भाङे मरीज़नि में का बि शिकायत न हूंदी आहे । उन हालत में रतु जी तपास में क्रिअेटीनिन जो अंदाज़ु वधीक हुअण ई हिन बीमारीअ जी फक़त हिक निशानी थी सघे थी ।

ग़लति मञिता: हाणु मुंहिंजी किडनी बराबर आहे, मूंखे दवा वठण जी ज़रूरत न आहे ।

हक़ीक़त : किडनी फेल्यर जे केतिरनि मरीज़नि में दवा करण सां तबीयत सुधरी वञण सबबु मरीज़ ख़ुद​-ब -ख़ुद दवा वठणु बंद करे छडीं॒दा आहिनि, जेका गा॒ल्हि तमाम जोखाइती थी सघे थी । दवा ऐं परहेज़ जी कमीअ सबबु किडनी तकिड़ी ख़राब थिऐ ऐं जल्दु ई डायालिसीज़ जी ज़रूरत पैदा थिऐ, अहिड़ी हालत अचण जो ख़तरो रहे थो ।

ग़लति मञिता:रतु में क्रिअेटीनिन जो अंदाज़ थोड़ो वधीक हुजे पर तबियत सुठी हुजे त चिंता करण या ख़ास इलाज जी ज़रूरत न आहे ।

हक़ीक़त :रत में क्रिअेटीनिन जो अंदाज़ थोड़ो बि वधीक हुजे त उहो बु॒धाऐ थो त किडनीअ जी कमु करण जी शक्तिअ में असर थी रहियो आहे । इन करे उन तरफ ध्यान छिकाइणु तमामु ज़रूरी आहे । किडनीअ जूं केतिरियूं जुदा - जुदा बीमारियूं किडनीअ खे नुक़सान पहुचाऐ सघनि थियूं । इन लाइ नेफोलोजिस्ट खे वक़्तु-बि-वक़्तु डे॒खारण ज़रूरी बणिजी वञे थो । त असां खे इहो जाणणु घुरिजे त क्रोनिक किडनी फेल्यर जे जुदा-जुदा हालतुनि में क्रीअेटिन में वाधि थियणु छा बुधाऐ थो ऐं उन जी अहिमियत केतिरी आहे ।

क्रोनिक किडनी फेल्यर जे मरीज़नि में क्रिअेटिन जे अंदाज़ में थोड़ो इज़ाफो (वाध​) तडहिं डिसण में ईंदो आहे जडहिं किडनीअ जी कमु करण जी शक्ति 50% खां वधीक घटिजी वेंदी आहे । जडहिं रतु में क्रिअेटिन जो अंदाज़ 1.6 मि.ग्रा. खां वधीक हुजे त बई किडनियूं (गुर्दा) 50% खां वधीक ख़राब थी विया आहिनि, ईंअ चई सघिबो । इहा हालतक्रोनिक किडनी फेल्यर जे मरीज़नि में क्रिअेटिन जे अंदाज़ में थोड़ो इज़ाफो (वाध​) तडहिं डिसण में ईंदो आहे जडहिं किडनीअ जी कमु करण जी शक्ति 50% खां वधीक घटिजी वेंदी आहे । जडहिं रतु में क्रिअेटिन जो अंदाज़ 1.6 मि.ग्रा. खां वधीक हुजे त बई किडनियूं (गुर्दा) 50% खां वधीक ख़राब थी विया आहिनि, ईंअ चई सघिबो । इहा हालत मुनासिब संभाल दवा ऐं परहेज़ द्वारां कयल इलाज मां मिलंदड़ फायदनि लाइ उत्तम गणे सघिजे थी । इन हालत में नेफ्रोलोजिस्ट द्वारां थींदड़ु इलाजु किडनीअ जी कमु करण जी शक्ति लंबे अरिसे ताईं क़ाइम रखण में मददगार थी सघे थो । रवाजी तरह जडहिं रतु में क्रिअेटिनिन जो अंदाज़ 5.0 मि.ग्रा. थिऐ, तडहिं बई किडनियूं अटिकल 80% जेतिरियूं ख़राब (Fail) थी वेयूं आहिनि, ईअं चई सघिबो । हिन हालत में किडनीअ खे तमाम घणो नुक़सान थी वियो आहे पर तमाम सुठे में सुठा फाइदा हासिल करण लाइ असां पुठिते रहिजी विया आहियूं, इहो ख़्याल रखणु घुरिजे ।

जडहिं रतु में क्रिअेटिनिन जो अंदाज़ 8 खां 10.0 मि.ग्रा. खां वधी वञे त बिन्ही किडनियुनि खे तमाम घणो नुक़सान थी वियो हूंदो आहे । इन तबक़े (हालत​) में दवा ऐं परहेज़ द्वारां इलाज सां फाइदो हासिल करण जो मोक़ो असां लगभगु विञाऐ चुका आहियूं , ईंअ चई सघिबो । घणे भाङे मरीज़नि खे हिन हालत में डायालिसीज़ जी ज़रूरत पवंदी आहे ।

ग़लति मञिता:हिक दफ़ो डायालिसिज़ कराइण सां वक़्त​-बि-वक़्त डायालिसिज़ कराइणो पवंदो आहे ।

हक़ीक़त :न , केतिरा दफ़ा डायालिसिज़ कराइण जी ज़रूरत आहे, इहो किडनी फेल्यर जे क़िस्म ते मदार रखे थो ।

मुकमल नमूने कमु कंदड़ बई किडनियूं कंहिं सबब करे ओचितो ई ओचितो नुक़सान थियण सां थोड़े वक़्त लाइ कमु करणु बंद कनि त उन के अेक्यूट किडनी फेल्यर चइबो आहे । अेक्यूट किडनी फेल्यर जे मरीज़नि में थोड़े डायालिसिज़ खां पोइ किडनी वरी डायालिसिज़ कराइण जी ज़रूरत न पवंदी आङे । पर ग़लति मञिता के करे डायालिसिज़ कराइण में देर पवे त अहिड़नि मरीज़नि जो मौत पिणु थिऐ , अहिड़ी हालत पिणु थी सघे थी । क्रोनिक किडनी फेल्यर वधंदड़ ऐं बदिलाअे न सघिजे, इन क़िस्म जी बीमारी आहे ऐं हा, क्रोनिक किडनी फेल्यर जे आख़रीनि तबक़े में तबियत खे सही (सुठी) रखण लाइ बाक़ाइदे डायालिसिज़ ज़रूरी आहे । ग़लति मञिता: डायालिसिज़ सां किडनी फेल्यर मिटिजी वेंदो आहे । हक़ीक़त​: न​, डायालिसिज़ सां किडनी फेल्यर मिटिजी न वेंदो आहे । डायालिसिज़ जी प्रक्रिया में रतु जूं गै़र ज़रूरी इख़िराजी शयूं दूर थियनि , वधीक पाणी कढी शरीर में पाणीअ जो घुरबलि अंदाज़ क़ाइम रखणु, घटि वधि थियल मइदिनी शयुनि जो अंदाज़ क़ाइम रखणु ऐं शरीर में गडु थियल ऐसिड जे वधीक अंदाज़ खे घटाऐ सही अंदाज़ क़ाइम रखणु आहे । डायालिसिज़ किडनीअ जा सभु कम कंदो आहे पर किडनी करे सघे अहिड़ो कमु करण जी शक्ति पैदा नथो करे सघे । डायालिसिज़ सां मरीज़नि में बीमारिअ जूं निशानियूं डिसण में न ईंदियूं आहिनि ऐं किडनी फेल्यर हूंदे बि उहो मरीज़ तंदुरस्त लगंदो आहे । ग़लति मञिता: किडनी ट्रान्सप्लान्टेशन में मर्द ऐं औरत हिक बिऐ खे किडनी डेई नथा सघनि ।

हक़ीक़त:न सागी॒ रचना (बनावत​) ऐं कमनि जे करे मर्दु औरत खे ऐं औरत मर्द खे किडनी डे॒ई सघनि था ।

ग़लति मञिता:किडनी डि॒यण सां तबियत ऐं शरीर ते असरु पइजी सघे थो ।

हक़ीक़त : न​, किडनी डि॒यणु तमामु सलामति आहे उन जो तंदुरस्ती ऐं शरीर ते को बि असरु न थो थिएे हिक किडनीअ सां आम जीवन​, कमु कार मुमकिन आहे ।

ग़लति मञिता:किडनी ट्रान्स्पलान्टेशन लाइ किडनी विकिरे ते मिलंदी आहे ।

हक़ीक़त :न​, किडनी ख़रीद करणु ऐं विकिणणु ब॒ई क़ानूनी डो॒हु आहिनि । वरी, ख़रीद कयल किडनीअ सां कयल किडनी ट्रान्सप्लान्टेशन में नाकामियाबीअ जो ख़तिरो बि वधीक रहे थो ।

ग़लति मञिता:किडनी फक़ति मर्दनि में ई हूंदी आहे जेका बि॒नि टंगुनि जे विच में गो॒थिरीअ में आयल आहे ।

हक़ीक़त :न​, मर्द ऐं औरत बि॒न्ही में सागी॒ रचिना ऐं क़द वारी किडनी , पेट जे पुठिअें ऐं मथिअें हिस्से में करंघे जे बि॒न्ही पासे हिक -हिक आयल हूंदी आहे । मर्दनि में टंगुनि जे विच में गो॒थिरीअ में आयल औलादु पैदा करण जो अहिमियत जो उज़िवो ख़सिया (Testes) आहे ।

ग़लति मञिता:हाणे मुंहिंजो रत दाबु॒ बाक़ाइदे (बराबर​) आहे, इन करे हाणे मूंखे दवा जी ज़रूरत न आहे । मूंखे तकिलीफ कान्हे त मूंखे दवा छो वठणु घुरिजे ?

हक़ीक़त :रतु जो दाबु॒ वारनि मरीज़नि में रतु जो दाबु॒ दवा सां क़ाबूअ में अचण बइद संतोष करे केतिरा मरीज़ ब्लड प्रेशर जी दवा बंद करे छडीं॒दा आहिनि । घणनि मरीज़नि में रतु जो ऊचो दाबु॒ हूंदे बि का बि तकिलीफ नज़र न ईंदी आहे , तंहिंकरे उहे दवा वठण लाइ तैयार न थींदा आहिनि पर रतु जे दाबु॒ सबबु लंबे अरिसे बइद किडनी , दिल​, मग़जु वग़ैरह ते गंभीर असरु थी सघे थो ऐं हार्ट अटैक​, किडनी फेल्यर जहिड़युनि गंभीर बीमारियुनि जि इमिकान थी सघे थो । तंहिंकरे का बि तकिलीफ न हुजे तंहिं हूंदे बि बाक़ाइदे दवा वठणु तमामु ज़रूरी आहे ।

स्रोत : किडनी एजुकेशन

2.25
गडु समालोचना

पंहिंजो सुझाउ डियो

Enter the word
Back to top